International Journal of Advanced Academic Studies
  • Printed Journal
  • Refereed Journal
  • Peer Reviewed Journal

2022, Vol. 4, Issue 3, Part B

रीवा जिले में घरेलू महिला उत्पीड़न पर परामर्श केन्द्र की भूमिकाः एक समाजशास्त्रीय अध्ययन


Author(s): पूजा सिंह, डाॅ. के.के. सिंह

Abstract: इस शोध पत्र के द्वारा रीवा जिले में घरेलू महिला उत्पीड़न पर परामर्श केन्द्र की भूमिका: एक समाजशास्त्रीय अध्ययन किया गया है। प्रस्तुत शोध में आंकड़ों के संकलन हेतु स्वनिर्मित अनुसूची का निर्माण किया गया है। इसमें रीवा जिले के न्यादर्श में चयनित परिवार परामर्श केन्द्र से 10 (02 कर्मचारी, 02 सामाजिक कार्यकर्ता, 02 काउंसलर, 02 महिला हेल्पलाइन व 02 अधिकारियों) और सभी विकासखण्डों से 40-40 अर्थात कुल 360 महिला उत्तरदाताओं से जिसमें सभी शहरी एवं ग्रामीण, सभी धर्म एवं आयु के लोग सम्मिलित है, आंकड़ों का संग्रहण किया गया है। शोध क्षेत्र में 90.00 प्रतिशत परिवार परामर्श केन्द्र के (कर्मचारी, सामाजिक कार्यकर्ता, काउंसलर, महिला हेल्पलाइन व अधिकारियों) और 72.78 प्रतिशत महिला उत्तरदाता सहमत थे कि परिवारिक कलह, शराबखोरी आदि के कारण होने वाली महिला उत्पीड़न का हल कानूनी माध्यम से संभव नही हो पाती, क्योंकि मूलतः ये समस्याएं मनोवैज्ञानिक कारणों से उत्पन्न होती है। इसका समाधान मनोवैज्ञानिक तरीके से परामर्श परिवार परामर्श केन्द्रों की भूमिका से की जाती है।

DOI: 10.33545/27068919.2022.v4.i3b.827

Pages: 93-97 | Views: 650 | Downloads: 357

Download Full Article: Click Here
How to cite this article:
पूजा सिंह, डाॅ. के.के. सिंह. रीवा जिले में घरेलू महिला उत्पीड़न पर परामर्श केन्द्र की भूमिकाः एक समाजशास्त्रीय अध्ययन. Int J Adv Acad Stud 2022;4(3):93-97. DOI: 10.33545/27068919.2022.v4.i3b.827
International Journal of Advanced Academic Studies
Call for book chapter